अनौपचारिक पत्र लेखन का प्रारूप (Informal Letter Format in Hindi)

अनौपचारिक पत्र लेखन का प्रारूप (Informal Letter Format in Hindi): सीधे, प्रभावी और अपनाये जाने वाले अनौपचारिक पत्रों के लेखन की आसान विधि। इस प्रारूप के माध्यम से अपने दोस्तों और परिवार से आसानी से संवाद स्थापित करें और अपनी भावनाओं को सही तरीके से व्यक्त करें।

अनौपचारिक पत्र लेखन का प्रारूप (Informal Letter Format in Hindi):

प्रिय मित्र,

कैसे हो? उम्मीद है कि तुम स्वस्थ और खुशहाल होगे। एक लंबे समय के बाद, मैंने सोचा कि एक पत्र लिखना चाहिए और तुमसे मिलकर बातें करनी चाहिए।

हाल क्या है? मेरे यहाँ सब कुछ ठीक है। बहुत ही बड़ी खबर है कि मैंने नया काम शुरू किया है। काम में थोड़ा बहुत बसी हुई है, लेकिन मजा आ रहा है।

तुम्हारी ओर से कोई नई बातें सुननी हो तो बताना मत भूलना। हमेशा खुश रहना और मुझसे जल्दी मिलने का प्लान बनाना।

इस पत्र का जवाब जल्दी से चाहिए।

ढ़ेर सारा प्यार,

[तुम्हारा नाम]

अनौपचारिक पत्र लेखन का प्रारूप || Informal Letter Format in Hindi

Informal letter in Hindi

पत्र लेखन वह रूप है जिसमें हम अपने दोस्तों, परिवारजनों या जिनके साथ हम आत्मभाषण कर रहे होते हैं, उन्हें सुलझाने, खुशी या दुःख साझा करने के लिए इस्तेमाल करते हैं। यहां एक अनौपचारिक पत्र लेखन का प्रारूप है:

  1. पत्र का शीर्षक:
    • आपका पत्र का विषय छोटा होता है, जो पत्र के पहले हिस्से में आता है।
  2. प्रारंभिक भाग:
    • तारीख के नीचे, आपका पत्र का प्रारंभ होता है। इसमें आप अपने प्रियतम को श्रीमान/श्रीमती/कम/मिस के रूप में संबोधित कर सकते हैं।
  3. केन्द्रीय भाग:
    • यहां आप अपनी बातें, विचार, और अनुभव साझा करते हैं। यह भाग पत्र का मुख्य हिस्सा होता है जहां आप अपनी बातें प्रस्तुत करते हैं।
  4. समाप्ति:
    • पत्र का अंतिम भाग में आप आशीर्वाद, प्रेम, या फिर विशेष विचार शामिल कर सकते हैं। आप अपना नाम और साइनेचर इस भाग में डाल सकते हैं।
उदाहरण: 1 अनौपचारिक पत्र लेखन का प्रारूप (Informal Letter Format in Hindi):

प्रिय मित्र, नमस्ते! आशा है कि यह पत्र आपको स्वस्थ और खुशहाल होने में पाए। आज मैंने अपने स्कूल के छुट्टियों का काफी आनंद लिया। हमने दोस्तों के साथ एक छोटे से पिकनिक पर जाने का निर्णय लिया था, और हमने साथ में बहुत अच्छा समय बिताया। स्कूल में आने वाले आगामी सत्र के बारे में सुना है। कृपया बताएं कि आप कैसे तैयारी कर रहे हैं और आपके पाठ्यक्रम में कौन-कौन से विषय हैं। मैं आपसे जल्दी ही मिलने का इंतजार कर रहा हूं। ध्यान रखें, मित्रता का हमेशा समर्पित रह। आपका दिन शुभ हो!

धन्यवाद,

[आपका नाम]

उदाहरण: 2 अनौपचारिक पत्र लेखन का प्रारूप (Informal Letter Format in Hindi):

प्रिय मोहन, नमस्ते! आशा है कि तुम स्वस्थ और खुशहाल होगे। इस पत्र के साथ, मैं तुम्हें बताना चाहता हूं कि मैंने तुम्हें कितनी याद किया है। तुम्हारे बिना सब सुना सुना सा लग रहा है। गुजरे हुए समय में, मैंने कई रोचक गतिविधियों में भाग लिया है। मैंने हाल ही में एक शानदार छुट्टी का आनंद लिया और कई नई जगहें देखी हैं इस बारे में तुम्हें बहुत कुछ बताना चाहता हूं। तुम्हारा जल्दी ही मिलने का इंतजार है। ध्यान रखना और मिलते हैं जल्दी ही।

धन्यवाद,

[तुम्हारा नाम]

इस प्रारूप का अनुसरण करके आप आसानी से अपने मित्र, परिवार, या अन्य संपर्कों के साथ अनौपचारिक पत्र लिख सकते हैं।

अनौपचारिक पत्र लेखन का प्रारूप || Informal Letter Format in Hindi

Sarkari Schools
Sarkari Schools
Articles: 1220